NEET UG 2022: नीट परीक्षा में कम स्‍कोर से न हों निराश, इन मेडिकल कोर्सेज़ से बनाएं कर‍ियर

0
19

NEET UG 2022: नीट परीक्षा में कम स्‍कोर से न हों निराश, इन मेडिकल कोर्सेज़ से बनाएं कर‍ियर

Medical Courses without NEET: अगर नीट में आपका स्कोर अच्छा नहीं है और आप मेडिकल में करियर बनाना चाहते हैं तो आप कई अन्य कोर्स भी चुन सकते हैं जिनके लिए नीट अनिवार्य नहीं है। यहां पाएं पूरी जानकारी-

12वीं के बाद मेडिकल कोर्स: राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा (NEET 2022) परीक्षा 17 जुलाई 2022 को आयोजित की गई है। 18 लाख से अधिक उम्मीदवार परीक्षा में शामिल हुए हैं, जिन्हें अब देश के शीर्ष मेडिकल कॉलेजों के एमबीबीएस और बीडीएस पाठ्यक्रमों में प्रवेश मिलेगा। परामर्श के माध्यम से देश एक अच्छे कॉलेज में सीट पाने के लिए उम्मीदवार का अच्छा स्कोर होना जरूरी है। ऐसे में अगर नीट में आपका स्कोर अच्छा नहीं है और आप मेडिकल में करियर बनाना चाहते हैं तो आप कई अन्य कोर्स भी चुन सकते हैं जिनके लिए नीट अनिवार्य नहीं है।

1. बीएससी नर्सिंग

B.Sc नर्सिंग 4 साल का ग्रेजुएशन कोर्स है, जिसके बाद आप स्टाफ नर्स, रजिस्टर्ड नर्स (RN), नर्स टीचर और मेडिकल कोडर बन सकते हैं। नर्सिंग के लिए नीट परीक्षा उत्तीर्ण करना अनिवार्य नहीं है, लेकिन अब कई राज्यों में नीट स्कोर के जरिए बीएससी नर्सिंग में प्रवेश शुरू हो गया है। इस कोर्स के जरिए आप सालाना 3 लाख रुपये से लेकर 8 लाख रुपये तक के सैलरी पैकेज पर नौकरी पा सकते हैं।

2. बीएससी पोषण/आहार विशेषज्ञ/खाद्य प्रौद्योगिकी

यह भी एक ग्रेजुएशन कोर्स है जिसे 3 से 4 साल में पूरा किया जा सकता है। इस कोर्स के बाद आप न्यूट्रीनिस्ट, फूड टेक्नोलॉजिस्ट और रिसर्च पदों पर नौकरी पा सकते हैं। सालाना 5 लाख रुपये तक का सैलरी पैकेज यहां मिल सकता है।

3. बीएससी जैव प्रौद्योगिकी
बीएससी बायोटेक्नोलॉजी भी एक अच्छा विकल्प है। इस कोर्स की फीस 35,000 रुपये से लेकर 100,000 रुपये प्रति वर्ष तक हो सकती है। इस स्नातक पाठ्यक्रम की अवधि 3 से 4 वर्ष है। इस कोर्स को करने के बाद आप बायोटेक्नोलॉजिस्ट के पद पर नौकरी पा सकते हैं जहां सालाना पैकेज 5 लाख रुपये से लेकर 9 लाख रुपये तक हो सकता है।

4. बीएससी कृषि विज्ञान

बीएससी एग्रीकल्चर 4 साल का अंडरग्रेजुएट डिग्री कोर्स है। कई कॉलेज इस कोर्स में प्रवेश के लिए प्रवेश परीक्षा भी आयोजित करते हैं। अगर आप यह कोर्स किसी सरकारी कॉलेज या यूनिवर्सिटी से करते हैं तो यह कोर्स सालाना 7 हजार से 15 हजार रुपये की फीस पर पूरा किया जाएगा। जबकि एक निजी कॉलेज या विश्वविद्यालय में इसकी फीस 20 हजार रुपये से लेकर 80 हजार रुपये सालाना तक होती है। इस कोर्स के बाद आप एग्रोनोमिस्ट, एग्रीकल्चर साइंटिस्ट और एग्रीबिजनेस जैसे पदों पर काम कर सकते हैं जहां आपको 5 लाख रुपये से लेकर 9 लाख रुपये तक का सालाना पैकेज मिल सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here